5G नेटवर्क क्या है, what is 5g network | full info hindi me

दोस्तो आज हम आपके मन में 5g से आने वाले बहुत सारे  सवालो के जवाब लेकर आये  जैसे, 5G क्या है ये कैसे काम करता है, 5G मोबाइल कब आएगा और 5G नेटवर्क  इंडिया मे कब आएगा आदि जानकारी आज हम लेकर आये है आपके लिए ये सब जानकारी हमने नीचे विस्तार से बताई है ।

सबसे पहले बात करते है

5G क्या है ?

तो चलिये बात करते है  5G क्या है ,
5G  इंटरनेट की एक पीढ़ी है जो बहुत फ़ास्ट और सिक्योर है या फिर इसको हम 5G नेटवर्क भी कह सकते है

ये 5G Technic कैसे काम करती है? ये 4G नेटवर्क के मुकाबले कितना बेहतर और फ़ास्ट है 5G नेटवर्क 4g से किस लिए बेहतर है? इन्ही सभी चीज़ों के विषय में अगर आपको जानना है तब आपको ये post जरुर पढनी होगी.
इस इंटरनेट पीढ़ी की शुरुआत 1G से हुई जो एक बहुत ही ज्यादा धीमा और कमजोर नेटवर्क था उसके बाद 2G लॉन्च किया गया जो 1G नेटवर्क के मुक़ाबले थोड़ा सही था ,फिर इंटरनेट यूजर की बढ़ती हुई संख्या के आधार पर 3G नेटवर्क लांच किया गया जिसको लोगो ने इन दोनों नेटवर्क के मुक़ाबले काफी पसंद किया गया काफी लम्बे समय तक चलने के बाद ये नेटवर्क भी धीरे - धीरे  कमजोर और धीमा होने लगा जिसके कारण jio 4G लेकर आया इसके आने के बाद network इंडस्ट्री में तहलका मच गया ये 4G नेटवर्क बहुत ही ज्यादा फ़ास्ट था जो अभी भी चल रहा है इसके आने से इंटरनेट चलाने वालो की संख्या में काफी ज्यादा इजाफा हुआ जिसके कारण इस नेटवर्क पर अब काफी ज्यादा लोड हो गया जिसके कारण 4G speed कम हुई है इसके चलते ही 5G नेटवर्क की तैयारी भारत में चल रही है

5G की full form क्या है ?

5G का Full Form है Fifth Generation. ये Fifth-generation wireless, या 5G, बहुत ही latest cellular technology है, जिसे की ख़ास तोर से engineered किया गया है जिससे की wireless networks की speed और responsiveness को आसानी से बढाया जा सके. वहीँ 5G, में data को wireless broadband connections के माध्यम से लगभग 20 Gbps से भी ज्यादा की speed में transmit किया जा सकता है. इसके साथ ये बहुत ही कम latency जो की है 1 ms offer करती है और जहाँ real-time feedback की जरुरत है वहां और भी कम. 5G में ज्यादा bandwidth और advanced antenna technology होने के कारण इसमें ज्यादा amount की data को wireless के माध्यम से transmit किया जा सकता है.




5G Network के फायदे और features

अब हम कुछ विशेष 5G technology features के बारे में जानते हैं. चलिए जानते हैं की आखिर 5G Technology में ऐसे क्या नए features है जो की वर्तमान network में नहीं है.

इसमें Up to 10Gbps data rate का होना. इसके साथ 10 to 100x की rate में network improvement होना 4G और 4.5G networks की तुलना में.
1 millisecond latency का होना
इसमें 1000x bandwidth per unit area का होना

इसमें हम Up to 100x number के connected devices per unit area (अगर हम 4G LTE के साथ तुलना करें) तक connect कर सकते हैं
इसके अलावा ये 100% coverage प्रदान करता है

ये energy save करने में काफी मदद करता है. जिसके चलते ये लगभग 90% तक network energy usage कम करने में मदद करता है
इसमें आप low power IoT devices जो की करीब 10 सालों तक आपको power प्रदान कर सकती है का इस्तमाल कर सकते हैं
ज्यादा data volume per unit area (i.e. high system spectral efficiency) होती है

ज्यादा capacity होती है जो की इसे ज्यादा devices के साथ concurrently और instantaneously connect होने में मदद करती है
ये Lower battery consumption करती है
ये बेहतर connectivity प्रदान करती है किसी भी geographic region की अगर आप बात करें तब

ये ज्यादा नंबर की supporting devices को support कर सकती है
इसमें infrastructural development करने में काफी कम लागत लगती है
और भी बहुत सारे फीचर्स है जो मुझे खुद भी नही पता अभी
इन सब फीचर्स का पता लांच होने पर पता चल जाएगा


5G नेटवर्क के आने से हमने आपको फायदे के बारे में ऊपर ही बता दिया है जिसे आपने पढ़ ही लिया होगा अब हम आपको इसके दुष्प्रभाव के बारे में बताएंगे

इसके disadvantage क्या है ? 

इस समय भारत में केवल 4G फ़ोन ही ज्यादातर यूजर फ़ोन बहुत सारे पुराने devices इस नयी 5G technology के साथ compatible नहीं है जिसके चलते उन्हें बदलना पड़ेगा,भारत में ज्यादातर स्मार्टफोन यूजर सामान्य है  जो फिलहाल अभी 4G फ़ोन यूज़ कर रहे है तो उनके लिए ये एक expensive deal साबित होगा जिसके कारण इसका 5G नेटवर्क पर नकारात्मक प्रभाव पड़ेगा

इसके पूर्ण स्वरूप को Develop करने में ज्यादा cost लग सकता है.

इसमें अभी तक भी कई Security और privacy related issue मोजूदव हैं जिन्हें अभी तक भी solve करना बाकि है.

5G भारत में कब आएगा ?

आप सोच रहे होंगे के 5G मोबाइल कब लॉंच होगा? सरकार ने 5G स्पेक्ट्रम के लिए ऑक्शन की तैयारी शुरू कर दी है. सरकार ने ट्राई से कहा है कि 3400 से 3600 MHz बैंड्स की नीलामी के लिए शुरुआती दाम सुझाए. ट्राई ने इसपर काम शुरू कर दिया है. डिपार्टमेंट ऑफ टेलिकॉम जल्द ही इस संबंध में एक पॉलिसी भी ला सकता है. दरअसल एक्सपर्ट्स का मानना है कि भारत में 5G जैसी फास्ट वायरेलस टेक्नॉलजी लाने से पहले डेटा होस्टिंग और क्लाउड सर्विसेज के लिए रेग्युलेटरी कंडिशंस में बदलाव लाया जाना चाहिए.

 तो दोस्तो आपको ये हमारी पोस्ट कैसी लगी इसमे हमने आपको 5G नेटवर्क के बारे में बताया ये क्या है और इसके क्या फायदे है इसके india में लांच होने के कितने दिन है आदि जानकारी हमने आपको इस पोस्ट में दी अगर आपको ये पोस्ट अच्छी लगी हो या कुछ हमसे इस पोस्ट में छूट गया हो तो आप नीचे comment बॉक्स में हमे कमेंट कर सकते है हम आपको उत्तर जरूर देंगे

0 Response to "5G नेटवर्क क्या है, what is 5g network | full info hindi me"

Post a Comment